Nuclear Weapons: दोस्त के घर से 'दुश्मन' को मारेगा रूस, यूक्रेन जंग के बीच जानें पुतिन का 'परमाणु प्लान'!

Fri, May 26, 2023, 11:36

Source : Hamara Mahanagar Desk

Russia-Ukraine War: रूस और यूक्रेन के बीच चल रहा युद्ध फ‍िलहाल थमता नहीं द‍िख रहा है. दोनों के बीच छ‍िड़ी जंग और तेज होती नजर आ रही है. अब रूस ने यूक्रेन पर और तेज हमले करने की रणनीत‍ि (strategy to attack Ukraine) तैयार की है. रूस अब यूक्रेन पर परमाणु हथ‍ियारों से हमले करने की फूलप्रूफ रणनीत‍ि बना रहा है. रूस (Russia) ने अपने म‍ित्र देश बेलारूस (Belarus) के साथ एक समझौते पर हस्‍ताक्षर भी क‍िए हैं. यूक्रेन (Russia-Ukraine War) को युद्ध में परास्‍त करने के ल‍िए रूसी परमाणु हथियारों (Nuclear Weapons) को तैनात करने की प्रक्रिया को औपचारिक रूप देते हुए एक समझौते पर हस्ताक्षर किए गए हैं. हालांकि हथियारों का नियंत्रण क्रेमलिन के पास रहेगा. रूस के इस कदम से यूक्रेन- अमेरिका समेत नाटो देशों की टेंंशन बढ़ जाएगी. क्योंकि 1991 के बाद ऐसा पहली बार है, जब रूस ने देश से बाहर परमाणु हथियारों की तैनाती की है.
दोनों देशों की ओर से उठाए गए इस कदम के जर‍िये रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन और बेलारूसी राष्ट्रपति अलेक्जेंडर लुकाशेंको द्वारा पहले की गई सहमति को औपचारिक रूप दिया. पुतिन ने इस साल के शुरू में घोषणा की थी कि उनके देश ने बेलारूस में सामरिक, तुलनात्मक रूप से कम दूरी और कम प्रभाव वाले परमाणु हथियारों को तैनात करने की योजना बनाई है. इस कदम को व्यापक रूप से पश्चिम के लिए एक चेतावनी के रूप में देखा गया जिसने यूक्रेन के लिए अपना सैन्य समर्थन बढ़ाया है.
रूस यूक्रेन पर फतह हा‍स‍िल करने के ल‍िए बेताब है. वह कोई भी कदम अब इस जंग में अपनाने के मूड में नजर आ रहा है. इसके चलते ही उसने परमाणु हथ‍ियारों की तैनाती करने का कदम अख्‍त‍ियार क‍िया है. हालांक‍ि हथियारों को कब तैनात किया जाएगा इसकी घोषणा पहले नहीं की गई थी. लेकिन पुतिन ने कहा है कि बेलारूस में उनके लिए भंडारण सुविधाओं का निर्माण एक जुलाई तक पूरा हो जाएगा. 
रूस की ओर से परमाणु हथ‍ियारों की संख्‍या को लेकर अभी स्‍थ‍ित‍ि स्‍पष्‍ट नहीं की गई है. यह भी स्पष्ट नहीं है कि बेलारूस में कितने परमाणु हथियार रखे जाएंगे. अमेरिकी सरकार का मानना है कि रूस के पास लगभग 2,000 रणनीतिक परमाणु हथियार हैं, जिनमें बम शामिल हैं. इन्हें विमान द्वारा ले जाया जा सकता है और कम दूरी की मिसाइलों और तोपखानों द्वारा भी इन्हें दागा जा सकता है. 
रणनीतिक परमाणु हथियारों का उद्देश्य युद्ध के मैदान में दुश्मन सैनिकों और हथियारों को नष्ट करना है. करार पर हस्ताक्षर तब हुए जब रूस यूक्रेन के बहुप्रतीक्षित जवाबी हमले के लिए तैयार हो गया. रूसी और बेलारूसी दोनों अधिकारियों ने पश्चिम से शत्रुता से प्रेरित यह कदम उठाया. बेलारूस के रक्षा मंत्री विक्टर ख्रेनिन का कहना है कि गैर-रणनीतिक परमाणु हथियारों की तैनाती हमारे लिए दुशमन देशों की आक्रामक नीति का प्रभावी जवाब है.
रूस और बेलारूस दोस्त माने जाते हैं. रूस ने बेलारूस में परमाणु हथियारों की तैनाती की है. यूक्रेन जंग के बीच यह अहम इसलिए भी है क्योंकि 1991 के बाद पहली बार ऐसा हो रहा है कि रूस ने अपने देश से बाहर परमाणु हथियारों की तैनाती की है. रूस और बेलारूस की पश्चिमी सीमाओं पर जंग के जोखिम में तीव्र वृद्धि के संदर्भ में सैन्य-परमाणु क्षेत्र में जवाबी उपाय करने का निर्णय लिया गया था.

Latest Updates

Get In Touch

Mahanagar Media Network Pvt.Ltd.

Sudhir Dalvi: +91 99673 72787
Manohar Naik:+91 98922 40773
Neeta Gotad - : +91 91679 69275
Sandip Sabale - : +91 91678 87265

info@hamaramahanagar.net

Follow Us
HAMARA MAHANAGAR SPECIALS
आईएएस अधिकारी तुकाराम मुंडेन का फिर हुआ ट्रांसफर, मंत्रालय ने जारी किए आदेश; अब संभालेंगे ये जिम्मेदारी 
ओडिशा के 17वीं विधानसभा के नवनिर्वाचित विधायकों का शपथ ग्रहण समारोह संपन्न, त्रिस्तरीय कड़ी सुरक्षा के बीच हुआ शपथ ग्रहण
 कंचनजंघा दुर्घटना की जांच करेंगे एनएफआर के मुख्य रेलवे सुरक्षा आयुत, दुर्घटना में मरने वालों की संख्या 10
Mahaparshan Rerquirment: महापारेषण में विभिन्न पदों पर भर्ती प्रक्रिया अंतिम चरण में रद्द, भर्ती प्रक्रिया रद्द होने से परीक्षार्थीयों में आक्रोश 
NSE Alert: काम की खबर! टेलीग्राम, व्हाट्सएप ग्रुप की सलाह पर शेयर बाजार में कर रहे हैं निवेश तो रहें सावधान, NSE ने किया अलर्ट!

© Hamara Mahanagar. All Rights Reserved. Design by AMD Groups