Paytm FY 24 Revenue: Paytm के राजस्व में उछाल, 25 प्रतिशत की वृद्धि, कई क्षेत्रों में दमदार प्रदर्शन

Wed, May 22, 2024, 03:33

Source : Hamara Mahanagar Desk

नई दिल्ली. भारत के यूपीआई (UPI) के साथ सेवा बाजार में पुराने खिलाड़ी पेटीएम (Paytm) ने शानदार प्रदर्शन किया। कंपनी ने रेवेन्यू (Paytm FY 24 Revenue) में लंबी छलांग लगाई। इस फिनटेक कंपनी (fintech company) ने अब बीमा क्षेत्र समेत अन्य सेगमेंट पर ध्यान केंद्रित किया है। वित्त वर्ष 2023-24 में कंपनी ने जोरदार प्रदर्शन किया। कंपनी के राजस्व (company's revenue) में 25 प्रतिशत की जबरदस्त वृद्धि हुई। कंपनी का रेवेन्यू अब 9,978 करोड़ रुपये तक पहुंच गया है। कंपनी का पूरे साल का EBITDA पहली बार 559 करोड़ रुपये पर पहुंच गया है। आईपीओ (IPO) के बाजार में आने के बाद से यह ग्राफ है।

अब इस क्षेत्र पर फोकस करें
इस वित्तीय वर्ष (FY 25) में कंपनी बीमा, वित्तीय सेवाओं और उत्पादों पर ध्यान केंद्रित करेगी। इसके लिए वितरण का मजबूत नेटवर्क बुनने पर जोर दिया जाएगा। Paytm ने AI के इस्तेमाल पर जोर दिया है। इसका उपयोग संगठनात्मक दक्षता बढ़ाने और परिचालन दक्षता में सुधार के लिए किया जाएगा, जिससे 400-500 करोड़ रुपये की वार्षिक बचत का लक्ष्य रखा जाएगा।

कंपनी ने मल्टी-बैंक मॉडल (multi-bank model) पर काम करना शुरू कर दिया है। उसके आधार पर लंबी अवधि में कमाई के मौके तलाशे जाएंगे। इस पर काम किया जायेगा। पेटीएम वन97 कम्युनिकेशन लिमिटेड (Paytm is a brand of One97 Communication Limited) का एक ब्रांड है। यह भारत के वित्तीय क्षेत्र की एक बड़ी कंपनी है। यह QR कोड, साउंडबॉक्स और मोबाइल भुगतान में अग्रणी कंपनी है। कंपनी ने हाल ही में वित्त वर्ष 2024 की चौथी तिमाही के नतीजे घोषित किए।

इस वित्तीय वर्ष (FY24) में कंपनी ने इस सेक्टर में सबसे ज्यादा प्रदर्शन किया है। कंपनी ने अच्छी खासी ग्रोथ दिखाई। कंपनी ने करोड़ों रुपये के भुगतान और वित्तीय सेवा क्षेत्र में काफी प्रगति की है। कंपनी का रेवेन्यू 25 फीसदी बढ़ा है।  सालाना आधार पर इस बढ़ोतरी के चलते राजस्व का आंकड़ा अब 9,978 करोड़ रुपये तक पहुंच गया है। 

जीएमवी वृद्धि, अन्य सेवाओं में मजबूत प्रदर्शन के कारण कंपनी ने भारी ध्यान आकर्षित किया। राजस्व के मामले में आगे रहे। कंपनी का पूरे साल का EBITDA पहली बार 559 करोड़ रुपये पर पहुंच गया है। पिछले वित्तीय वर्ष में यह 734 करोड़ रुपये था। आईपीओ के बाजार में आने के बाद से ही इसकी होड़ मची हुई है। UPI प्रोत्साहन में 288 करोड़ रुपये जोड़े गए हैं। पिछले वित्त वर्ष में यह आंकड़ा 182 करोड़ रुपये था. इस घुड़दौड़ के कारण राजस्व हानि भी कम हुई है।

कंपनी के मुनाफे में योगदान काफी बढ़ गया है. वित्त वर्ष 2024 में 42 फीसदी मुनाफा, 5,538 करोड़ रुपये पर पहुंच गया। यह आंकड़ा वित्तीय सेवाओं के जरिए हासिल किया गया। कंपनी की भुगतान सेवाओं का राजस्व 26 प्रतिशत बढ़ा। वार्षिक आधार पर इस वित्तीय वर्ष में यह 6,235 करोड़ रुपये है। इस चौथी तिमाही में इसमें सालाना आधार पर 7 फीसदी की बढ़ोतरी हुई और यह आंकड़ा 1,568 करोड़ पर पहुंच गया। जबकि ऋण वितरण मूल्य 48 फीसदी तक पहुंच गया। इस वित्तीय वर्ष में कर्ज वितरण का आंकड़ा 52,390 करोड़ तक पहुंच गया है। 

कंपनी की ग्रॉस मर्चेंडाइज वैल्यू 39 फीसदी बढ़ी है। इस वित्तीय वर्ष में यह आंकड़ा 18.3 लाख करोड़ तक पहुंच गया। इसे भुगतान सेवाओं के माध्यम से मुद्रीकरण पर ध्यान केंद्रित करने का परिणाम कहा जा सकता है। सब्सक्रिप्शन रेवेन्यू में भारी बढ़ोतरी हुई है। यह वृद्धि मार्च 2024 में 1.07 करोड़ व्यापारियों के लेनदेन से दर्ज की गई थी। यह बढ़ोतरी 58 फीसदी दर्ज की गई। मार्च 2023 में वार्षिक आधार पर 68 लाख।

कम समय में मजबूत बढ़त “मुझे यह कहते हुए बहुत खुशी हो रही है कि हमने अन्य सहयोगी बैंकों और भागीदारों की मदद से अपना एकीकृत भुगतान व्यवसाय शुरू किया है। इसने हमारे व्यवसाय से ध्यान हटा दिया और हमें नए अवसर दिए। इससे उपभोक्ता और व्यापार कारोबार को बढ़ावा मिला। यह बहुत खुशी की बात है कि इतने कम समय में ऐसा हो गया।' तो इस बार मार्केट कंट्रोलर ने भी हमें बहुमूल्य सहयोग दिया। यह एनपीसीआई, सहयोगी बैंकों और हमारी सहयोगी टीम की बदौलत हासिल किया गया। सरकार, नियामक निकायों और वित्तीय सेवाओं का समावेश हमें दीर्घकालिक विकास का एक बड़ा अवसर प्रदान करता है। पेटीएम के संस्थापक और सीईओ विजय शेखर शर्मा ने शेयरधारकों को लिखे एक पत्र में यह बताया है।

ऋण वितरण पर जोर
इस वित्त वर्ष में पेटीएम ने क्रेडिट वितरण पर ही ज्यादा फोकस किया। वितरण में भी उनका फोकस क्रेडिट वितरण मॉडल पर था। बैंकों, वित्तीय संस्थानों और टेक्नोलॉजी की मदद से कंपनी ने बड़ी छलांग लगाई। उसके आधार पर कंपनी ने ऋण वितरण पर ध्यान केंद्रित किया।

बीमा और वित्तीय सेवाओं-उत्पादों पर ध्यान दें
कंपनी ने अब अपना लक्ष्य FY2025 तय किया है। इसके मुताबिक कंपनी बीमा, वित्तीय सेवाओं और उत्पादों पर ध्यान केंद्रित करेगी। उभरते बीमा क्षेत्र में अवसरों को देखते हुए कंपनी ने स्वास्थ्य बीमा उत्पाद लॉन्च करने पर ध्यान केंद्रित किया है। यह स्वास्थ्य बीमा कैशलेस उपचार प्रदान करेगा। इसमें मासिक किश्तों का प्रावधान है। इसमें परेशानी मुक्त और आसान दावा सुविधा भी होगी। कंपनी ऑटो, दुकान, स्वास्थ्य और जीवन बीमा क्षेत्रों में उतरेगी।

एआई तकनीक का उपयोग करना
Paytm ने AI के इस्तेमाल पर जोर दिया है। इसका उपयोग संगठनात्मक दक्षता बढ़ाने और परिचालन दक्षता में सुधार के लिए किया जाएगा, जिससे 400-500 करोड़ रुपये की वार्षिक बचत का लक्ष्य रखा जाएगा। इस प्लेटफॉर्म पर यूजर ट्रैफिक भी बढ़ा है। इस वित्त वर्ष की चौथी तिमाही में औसत मासिक कारोबार 7 फीसदी बढ़ा है और सालाना आधार पर यह आंकड़ा 9.6 करोड़ तक पहुंच गया है।

Latest Updates

Get In Touch

Mahanagar Media Network Pvt.Ltd.

Sudhir Dalvi: +91 99673 72787
Manohar Naik:+91 98922 40773
Neeta Gotad - : +91 91679 69275
Sandip Sabale - : +91 91678 87265

info@hamaramahanagar.net

Follow Us
HAMARA MAHANAGAR SPECIALS
आईएएस अधिकारी तुकाराम मुंडेन का फिर हुआ ट्रांसफर, मंत्रालय ने जारी किए आदेश; अब संभालेंगे ये जिम्मेदारी 
ओडिशा के 17वीं विधानसभा के नवनिर्वाचित विधायकों का शपथ ग्रहण समारोह संपन्न, त्रिस्तरीय कड़ी सुरक्षा के बीच हुआ शपथ ग्रहण
 कंचनजंघा दुर्घटना की जांच करेंगे एनएफआर के मुख्य रेलवे सुरक्षा आयुत, दुर्घटना में मरने वालों की संख्या 10
Mahaparshan Rerquirment: महापारेषण में विभिन्न पदों पर भर्ती प्रक्रिया अंतिम चरण में रद्द, भर्ती प्रक्रिया रद्द होने से परीक्षार्थीयों में आक्रोश 
NSE Alert: काम की खबर! टेलीग्राम, व्हाट्सएप ग्रुप की सलाह पर शेयर बाजार में कर रहे हैं निवेश तो रहें सावधान, NSE ने किया अलर्ट!

© Hamara Mahanagar. All Rights Reserved. Design by AMD Groups