खुल गया अंधेरी गोखले ब्रिज का एक हिस्सा, कुछ हद तक लोगो की परेशानियां हुई दूर

Mon, Feb 26, 2024, 08:03

Source : Hamara Mahanagar Desk

तेली गल्ली ब्रिज भी हुआ शुरू
मुंबई।
लगभग डेढ़ साल से बंद रहे अंधेरी गोखले ब्रिज (Andheri Gokhale Bridge) का एक हिस्सा सोमवार को छोटे वाहनों के लिए खोल दिया गया। ब्रिज के एक हिस्से का उद्घाटन (Opening of a part) राज्य के कैबिनेट मंत्री और उपनगर के पालक मंत्री मंगल प्रभात लोढ़ा (Mangal Prabhat Lodha) के हाथो किया गया।ब्रिज का बकाया हिस्सा दिसंबर तक खोले जाने की जानकारी दी। गोखले ब्रिज के एक हिस्से को खोले जाने से अभी फिलहाल छोटे वाहनों के आवागमन को अनुमति दी गई है क्योंकि बकाया ब्रिज के हिस्से का काम अभी शुरू है।इसी के चलते  काफी सावधानी बरतने की जरूरत है। गोखले ब्रिज के साथ तेली गल्ली का भी ब्रिज (Teli Galli Bhi Bridge0 खोल दिया गया।

बता दे कि अंधेरी स्टेशन के पास पूर्व से पश्चिम को जोड़ने वाला गोखले ब्रिज (Gokhale Bridge) को सोमवार की शाम वाहनों के लिए खोल दिया गया । 7 नवंबर 2022 से बंद हुआ ब्रिज का एक हिस्से का काम पूरा होने पर सोमवार को छोटे वाहनों के लिए खोल दिया गया। ब्रिज के एक हिस्से का काम पूरा होने में लगभग 16 महीने का समय लगा।मनपा ब्रिज विभाग के अधिकारियो ने बताया की ब्रिज का पूरा काम दिसंबर तक पूरा होगा उसके बाद पूरी तरह ब्रिज वाहनों के आवागामन के लिए खोला जाएगा।अंधेरी स्टेशन से पश्चिम एक्सप्रेस हाइवे तक के लिए बने बर्फी वाला लेन पर तेली गल्ली ब्रिज को भी सोमवार से शुरू किया गया जिससे 25 मिनट की दूरी अब वाहन चालक मात्र 5 मिनट में पूरा कर पाएंगे। गोखले ब्रिज (Gokhale Bridge) को खोलने की कई तारीखे घोषित हुई लेकिन अब जाकर एक हिस्सा ब्रिज का छोटे वाहनों के लिए खोला गया।वर्ष 1975 में बने गोखले ब्रिज का एक हिस्सा 3 जुलाई 2018 को गिर गया था  जिसमें दो लोगों की मौत हो गई थी। रेलवे की के ऊपर बना ब्रिज खतरनाक होने की वजह से मनपा  ने 7 नवंबर 2022 से पुल को यातायात के लिए बंद कर दिया था। गोखले फ्लाईओवर बंद होने की वजह से लोगों को अन्य वैकल्पिक मार्गों का उपयोग करना पड़ रहा था । साथ ही बांद्रा से बोरीवली तक लोगों को ट्रैफिक जाम का सामना करना पड़ रहा था । गोखले ब्रिज बंद होने की वजह से सबसे ज्यादा अंधेरी से जुहू, वर्सोवा से जोगेश्वरी आने-जाने वाले लोगों को ट्रैफिक जाम का सामना करना पड़ ।प्रथम चरण में रेलवे क्षेत्र में बने गर्डर का वजन लगभग 1200 मीट्रिक टन है। जिसकी लंबाई 90 मीटर और चौड़ाई 13.5 मीटर है। उक्त कार्य की गुणवत्ता एवं मानक बनाये रखने के साथ-साथ रेलवे सीमा के अन्दर ही कार्य रेलवे प्राधिकरण के नियमानुसार किया गया।जिसका काम रेलवे खुद ने किया। ब्रिज के उद्घटनां के समय पालकमंत्री मंगलप्रभात लोढ़ा शहर के पालक मंत्री दीपक केसरकर स्थानीय विधायक अमित साटम अंधेरी पूर्व की विधायक ऋतुजा लटके मनपा आयुक्त इक़बाल सिंह चहल (Iqbal Singh Chahal) अतिरिक्त आयुक्त पी वेलारसू  उपायुक्त रंजीत ढाकने विश्वास शंकरवार सहित अन्य लोग मौजूद थे। 

गोखले ब्रिज और बर्फीवाला ब्रिज में हुआ अंतर 
गोखले पुल और बर्फीवाला के बीच विसंगति का खामियाजा मनपा को भुगतना पड़ा है। बर्फीवाला ब्रिज को पहले निर्माण किया गया था और गोखले ब्रिज के निर्माण में रेलवे के पास ब्रिज की ऊंचाई 1.5 मीटर बढ़ाई गई।  जिससे पहले से तैयार बर्फीवाला ब्रिज और गोखले ब्रिज के बीच में अंतर हुआ।  मनपा आयुक्त इक़बाल सिंह चहल ने कहा  आने वाले दिनों में बराबरी सुनिश्चित करने के लिए रैंप बनवा कर इस समस्या का हल निकाला जाएगा। इस बीच मनपा प्रशासन ने मुंबई आईआईटी से दोनों ब्रिज के गैप को दूर करने के लिए सलाह मांगी है। 

एसवी रोड से सीधे  पश्चिम एक्सप्रेस हाइवे :
ब्रिज के बंद होने से पश्चिम उपनगर में लोगों को ट्रैफिक जाम की समस्या (traffic jam problem) का सामना करना पड़ रहा था । अब ब्रिज के खुलने से अंधेरी पूर्व से पश्चिम की ओर आना-जाना आसान होगा। गोखले ब्रिज को पहले से बन कर तैयार तेली गली ब्रिज से कनेक्ट किया गया । जिससे वहां चालक अब   एसवी रोड से सीधे पश्चिम  एक्सप्रेस हाइवे सीधे पहुंच सकेंगे  । ब्रिज के शुरू होने से प्रतिदिन हजारों वाहनों को फायदा होगा। 

Latest Updates

Get In Touch

Mahanagar Media Network Pvt.Ltd.

Sudhir Dalvi: +91 99673 72787
Manohar Naik:+91 98922 40773
Neeta Gotad - : +91 91679 69275
Sandip Sabale - : +91 91678 87265

info@hamaramahanagar.net

Follow Us

© Hamara Mahanagar. All Rights Reserved. Design by AMD Groups