Animal Movie Review: पिता और बेटे के प्रेम को प्रतिबिंबित करती कहानी, एक्शन से भरपूर  

Fri, Dec 01, 2023, 04:04

Source : Hamara Mahanagar Desk

मुंबई. संदीप रेड्डी वांगा (Sandeep Reddy Vanga) की 'एनिमल (Animal) ' की कहानी एक पिता के प्रति बेटे के प्रेम को झलकाती है। फिल्म कबीर सिंह में शहीद का लवर अवतार और एनिमल में रणबीर कपूर का पिता के प्रति जूनून एक दूसरे के अपोज़िट हैं। संदीप रेड्डी वांगा फिर से ‘मर्दों की दुनिया (Man's World)’ वाले अंदाज में रणबीर कपूर (Ranbir Kapoor) को लेकर आए हैं, बहुत ज्‍यादा वॉयलेंस और ढेर सारे खून-खराबे के साथ. ‘कबीर सिंह(Kabir Singh)’ जहां अपनी प्रीति के ल‍िए दीवाना था, वहीं अब ‘एनीमल’ में एक बेटा अपने प‍िता के लि‍ए दीवाना है. अब इस दीवानेपन में हमारी फिल्‍म का हीरो कुछ भी कर सकता है और संदीप इसी एक्‍सट्रीम स‍िनेमा को पर्दे पर द‍िखाते हैं. जि‍तना एक्‍साइटमेंट लोगों में इस फिल्‍म को लेकर है, क्‍या संदीप रेड्डी वांगा साढ़े तीन घंटे की इस फिल्‍म में उतनी ही मजेदार कहानी लेकर आए हैं? आइए आपको बताते हैं.
 ये कहानी रनव‍िजय बलवीर स‍िंह (रणबीर कपूर) के अपने प‍िता बलवीर स‍िंह (अन‍िल कपूर) के ल‍िए दीवानेपन की कहानी है. बलवीर स‍िंह द‍िल्‍ली का एक बहुत ही बड़ा ब‍िजनेस टाइकून है, ज‍िसकी स्‍वास्‍त‍िक स्‍टील के नाम की फैक्‍ट्री है,  इसी बलवीर स‍िंह के तीन बच्‍चे हैं 2 बहने और एक बेटा रनव‍िजय स‍िंह. रनव‍िजय जो अमेर‍िका में रहता है, उसे अचानक पता चलता है कि उसके प‍िता पर क‍िसी ने गोली चलाई है, ज‍िसके बाद वो अपना पर‍िवार लेकर वापस अपने प‍िता के पास आ जाता है और फिर ढूंढने न‍िकलता है अपने प‍िता पर हमला करने वाले इस हमलावर को. इसी बदले की कहानी है ये फिल्‍म.
पिता को लेकर बहुत पजेसिव हैं रनव‍िजय
 रणबीर यानि रनव‍िजय अपने पिता को लेकर हद तक दीवाने हैं. इसके साथ ही शुरुआत में ही रणबीर और रश्मिका की लव स्‍टोरी को द‍िखा द‍िया गया है, हालांकि इसमें ज्‍यादा समय बर्बाद नहीं क‍िया गया है. इसी लव स्‍टोरी के दौरान रणबीर ये भी एक्‍सप्‍लेन कर देते हैं कि कैसे औरतों को सद‍ियों से बस ‘अल्फा मर्दों’ ही पसंद आते हैं क्‍योंकि वो स्‍ट्रॉन्‍ग होते हैं. फिल्म में खासकर एक्‍शनसीन्‍स को बड़ी खूबसूरती से ड‍िजाइन क‍िया गया है.
 ‘एनीमल’  के सेकंड हाफ में उम्‍मीद की जाती है कि फिल्‍म में पता चलेगा कि आखिर ये क‍िसने क‍िया और क्‍यों…? अब इन 2 सवालों का जवाब देने के लि‍ए 3 घंटा 21 म‍िनट बहुत लंबा समय है. फिल्‍म इतनी लंबी है कि थकावट होने लगती है. सेकंड हाफ में एक्‍ट्रेस त्र‍िपती डीमरी का पूरा सीक्‍वेंस इतना अजीब और बोरिंग लगता है कि उसकी कहानी में कोई जरूरत ही नहीं लगती. रणबीर कपूर का जो दुश्‍मन उसके बचपन से लेकर अमेर‍िका तक की सारी जानकारी न‍िकाल लेता है, वो ये नहीं पता कर पाता कि रणबीर उसे मारने स्‍कॉटलेंड आ रहा है… और हां, संदीप रेड्डी वांगा की रची इस पूरी दुनिया में न तो पुल‍िस है और न प्रशासन, तो लॉज‍िक कहीं भी कहानी में होगा तो भूल जाइए. इस फिल्‍म की 2 दमदार चीजे हैं, पहली बीजीएम (बैकग्राउंड म्‍यूजि‍क) जो साउथ सिनेमा की जान है. और दूसरी फिल्‍म का गजब का एक्‍शन. एक्‍शन की बात करें तो इस फिल्‍म में ‘वॉयलेंस’ रणबीर कपूर से ज्‍यादा नजर आ रहा है. इंटरवेल से पहले एक अच्‍छा-खासा लंबा एक्‍शन सीक्‍वेस है, ज‍िसमें हेलमेट लगाए लोग वीड‍ियो गेम के टारगेट की तरह बस मरते जा रहे हैं.
एक्‍ट‍िंग की बात करें तो रणबीर कपूर Director’s Actor हैं, जो अपने क‍िरदार को पर्दे पर द‍िखाने के लि‍ए कुछ भी कर सकते हैं. इस फिल्‍म में भी रणबीर ने सबकुछ क‍िया है. न‍िर्देशक संदीप के रचे गए इस ‘मानसिक तौर पर बीमार कि‍रदार’ को जस्‍ट‍िफाई करने के ल‍िए रणबीर पर्दे पर नंगे तक हो गए हैं. रणबीर ने इस‍ फिल्‍म में भी अपने जी-जान लगा दी है. लेकिन इतने बढ़‍िया एक्‍टर को और 100 करोड़ के बजट को इतनी कमजोर कहानी में बर्बाद करना, इस पाप का प्राश्‍चित को न‍िर्देशक संदीप रेड्डी वांगा को करना ही होगा. रश्मिका हों या फिल्‍म की बाकी मह‍िला क‍िरदार, बस मर्दों की इस दुन‍िया में उनकी ऊंची आवाज सुनने और उनकी इच्‍छाओं की पूर्ती करने के ल‍िए है. हालांकि रश्मिका ने कुछ सीन्‍स में रणबीर को थप्‍पड़ मारे हैं और यही एक क‍िरदार है जो कुछ हद तक अपनी बात कह पाता है. लेकिन इस पर भी एक सीन में रणबीर पछतावा करते नजर आते हैं कि ‘शादी में पत्‍न‍ि को कंट्रोल रखना चाहिए वरना हाथ से न‍िकल जाती हैं’. बॉबी देओल जि‍तने ट्रेलर में हैं, उसी अनुपात में आपको फिल्‍म में भी नजर आएंगे. 

Latest Updates

Get In Touch

Mahanagar Media Network Pvt.Ltd.

Sudhir Dalvi: +91 99673 72787
Manohar Naik:+91 98922 40773
Neeta Gotad - : +91 91679 69275
Sandip Sabale - : +91 91678 87265

info@hamaramahanagar.net

Follow Us

© Hamara Mahanagar. All Rights Reserved. Design by AMD Groups