Side Effects of Chicken: चिकन खाने का शौक कहीं अस्पताल न पहुंचा दे! हो सकती है दुनिया की सबसे खतरनाक बीमारी

Source : Hamara Mahanagar Desk - Post By : vidya    Fri, Jun 02, 2023, 03:14



 WHO ने किया अलर्ट
नई दिल्ली.
अगर आप चिकन खाने के शौकीन हैं और बड़े शौक से इसे खाते हैं तो सावधान हो जाइए. क्योंकि आपका पसंदीदा चिकन (your favorite chicken) आपको दुनिया की 10वीं सबसे बड़ी बीमारी का शिकार बना सकता है और इसी को देखते हुए डब्ल्यूएचओ ने भी चेतावनी (WHO has warned) जारी की है. WHO ने आगाह किया है कि चिकन से एंटीमाइक्रोबॉयल रेजिस्टेंस यानि AMR की बीमारी हो सकती है, जो दुनिया में दसवीं सबसे बड़ी बीमारी है. हेल्थ एक्सपर्ट डॉक्टर एम वली ने बताया कि है कि चिकन खाने से सबसे तेजी से लोग AMR का शिकार बन रहे हैं.
पोल्ट्री फॉर्म में चिकन को दिया जा रहा है एंटीबायोटिक
डॉक्टर ने बताया कि वैसे तो चिकन पोषक तत्व जैसे प्रोटीन, मिनरल और विटामिन से भरा हुआ होता है. अब सवाल उठता है कि पोषक तत्व आपको बीमार कैसे बना सकते हैं? तो आपको बता दें कि पोल्ट्री फॉर्म में आजकल चिकन को तंदुरुस्त और मोटा ताजा बनाने के लिए एंटीबायोटिक दिया जाता है, जिससे चिकन के शरीर में काफी ज्यादा एंटीबायोटिक जमा हो जाता है. जिसका सीधा असर चिकन खाने वाले के बॉडी पर पड़ता है. जब यह चिकन खाते हैं तो चिकन के अंदर का एंटीबायोटिक खाने वाले के शरीर में एकत्रित हो जाता है.
शरीर में बढ़ने लगता है एंटीबायोटिक रेजिस्टेंस
इस तरह के चिकन का सेवन करने से आपकी बॉडी में एंटीबायोटिक रेजिस्टेंस बढ़ने लगती है और उसका बुरा प्रभाव यह होता है कि आपके शरीर पर एंटीबायोटिक दवाओं का असर होना कम होने लगता है. चिकन खाने से शरीर में आने वाले एंटीबायोटिक कुछ समय बाद एंटीमाइक्रोबॉयल रेजिस्टेंस AMR में बदल जाते हैं और ऐसे में बॉडी कई तरीके के इंफेक्शन का शिकार हो सकती है और इस इन्फेक्शन का इलाज भी बेहद मुश्किल और असंभव हो सकता है.
शाकाहार को जीवन में अपनाएं
हेल्थ एक्सपर्ट का कहना है कि जिस तरीके से एंटीबायोटिक शरीर में जमा हो जाता है और AMR की समस्या बढ़ जाती है. ऐसे में कोशिश करनी चाहिए कि जीवन में शाकाहार को अपनाएं. हरी सब्जी, पनीर, दूध और दही का इस्तेमाल करें. वह भी प्रोटीन का अच्छा स्त्रोत है.


#महाराष्ट्र,    #उत्तर प्रदेश,    #बिहार

ताजा खबरे